Off Page SEO क्या है? पूरी जानकारी के साथ 2024

Off Page SEO

ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) क्या है? (What is Off Page SEO)

ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) एक ऐसी तकनीक (Technique) है जिसके द्वारा आप अपनी वेबसाइट की रैंकिंग में गूगल सर्च इंजन (Google Search Engine) पेज पर बैकलिंक्स (Backlinks) के द्वारा सुधार लाते है या ये कहे कि बैकलिंक्स (Backlinks) के द्वारा आप अपनी वेबसाइट को रैंक में लाते हैं। ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) को ऑफ़ साइट एसईओ (Off-Site SEO) भी कहते है।

वे सभी तकनीक (Techniques) जो आपकी अपनी साइट पर नहीं बल्कि किसी अन्य साइट पर जाकर की जाती हैं और जिनके माध्यम से हमारी वेबसाइट की रैंक सर्च इंजन पेज (Search Engine Page) पर बढ़ती है। जैसे कई लोकप्रिय ब्लॉग पर जाकर उनके लेख (Articles) पर कमैंट्स करना और अपनी वेबसाइट का लिंक वहाँ छोड़ देना, जिसे हम बैकलिंक के नाम से भी जानते हैं।

बैकलिंक से वेबसाइट की रैंक को बहुत फायेदा होता है क्योकि इसके इस्तेमाल से हम अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ा सकते है। आप फेसबुक, ट्विटर, क्वोरा (Facebook, Twitter, Quora) जैसी सोशल मीडिया पर अपनी वेबसाइट का आकर्षक पेज बनाकर अधिक से अधिक यूजर्स को अपनी वेबसाइट पर लाकर भी ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा जो लोकप्रिय बड़े ब्लॉग्स हैं उन पर गेस्ट पोस्ट प्रस्तुत कर सकते हैं जिससे उनके ब्लॉग्स पर आने वाले आगंतुकों (Visitors) को आपकी वेबसाइट के बारे में जानने में मदद मिलेगी और आपकी वेबसाइट पर भी ट्रैफिक आना शुरू हो जाएगा।

बैकलिंक्स (Backlinks):

बैकलिंक्स (Backlinks), ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, क्योकि इसके इस्तेमाल से आप अपनी वेबसाइट(Website) पर आसानी से ट्रैफिक बढ़ा सकते है। हम अपनी वेबसाइट के लिए कई प्रकार के बैकलिंक्स (Backlinks) बनाते हैं। जिनकी सूची इस  प्रकार हैं!

  • डू फॉलो लिंक (Do follow link): ये बैकलिंक्स अधिकृत (Backlinks Authorized) होते हैं, मतलब इस प्रकार के लिंक एक अधिकार (Authority) प्रदान करते हैं। सभी प्रकार के बैकलिंक्स में डू फॉलो लिंक (Do follow Backlinks) सबसे महत्वपूर्ण होते है।
  • नो फॉलो लिंक (No follow links): इस प्रकार के बैकलिंक्स (Backlinks) पर कोई अधिकार नहीं है, ये अनधिकृत (Unauthorized) हैं। ये बैकलिंक्स (Backlinks) एसईओ के उद्देश्य से उतने महत्वपूर्ण  भी नहीं हैं।
  • प्रायोजित बैकलिंक्स (Sponsored Backlinks):जैसा कि नाम से पता चलता है, ये लिंक प्रचार के उद्देश्य से बनाए जाते हैं, जैसे एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) के लिए लिंक, या प्रचार बैनर आदि के लिए लिंक।

ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) कैसे करे?

इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) तकनीक के बारे में बताएंगे जो कि आपकी वेबसाइट के लिए बहुत उपयोगी सिद्ध हो सकते है।

  1. सर्च इंजन सबमिशन (Search Engine Submission)

इसके अंतर्गत हम सभी सर्च इंजन (Search Engine) पर अपनी वेबसाइट के ब्लॉग्स को प्रस्तुत (Submit) करते हैं, जिससे हमारी वेबसाइट प्रत्येक सर्च इंजन पर रैंक कर सकें और हमारी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक आये।

  1. बुकमार्किंग (Bookmarking)

बुकमार्क (Bookmark) का मतलब यह हैं कि अपने यू आर एल (URL) को किसी भी ब्राउज़र जैसे कि गूगल क्रोम (Google Chrome) पर सुरक्षित (Save) करना तथा इस यू आर एल (URL) को भविष्य में जरूरत पड़ने पर उसको आसनी से कभी भी एक्सेस (Access) कर सकते हैं। इसके अंतर्गत हम अपनी ब्लॉग/वेबसाइट के पेज/पोस्ट को बुकमार्किंग वाली किसी भी वेबसाइट में प्रस्तुत (Submit) करते हैं।

  1. निर्देशिका सबमिशन (Directory Submission)

निर्देशिका सबमिशन (Directory Submission) के अंतर्गत अपनी वेबसाइट को उच्च डोमेन प्राधिकरण (High Domain Authority) और उच्च पृष्ठ प्राधिकरण (High Page Authority) वाली वेबसाइट के अंदर प्रस्तुत करते हैं जिसकी मदद से आपकी भी वेबसाइट की डोमेन प्राधिकरण (Domain Authority) और पृष्ठ प्राधिकरण (Page Authority) बढ़ती है और आपकी वेबसाइट भी गूगल सर्च पेज (Google Search Page) पर रैंक कर पायेगी।

  1. सोशल मीडिया (Social Media)

आप सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम (Facebook, Instagram) आदि के अंतर्गत अपनी वेबसाइट का एक पेज बना सकते हैं और उसमें अपनी वेबसाइट लिंक जोड़ लें। इसके बाद आप अपनी वेबसाइट पर जब भी नया लेख (Article) लिखेंगे तो उसे भी बनाई गयी सभी सोशल मीडिया साइट (Social Media Site) पर शेयर करें ताकि उससे आपकी वेबसाइट की पहुंच (Reach) बढ़ने की संभावना बढ़ जाये।

इसे भी पढ़े >>>>On Page SEO क्या है और इससे Website का Traffic कैसे बढ़ाये? 2024 
  1. वर्गीकृत सबमिशन (Classified Submission)

इसका मतलब है किसी वर्गीकृत वेबसाइट (Classified Website) में जाकर अपनी वेबसाइट का फ्री मे प्रचार करना, इस तरह से खरीदार और व्यापारी (Businessmen) लिंक पर क्लिक करके हमारी वेबसाइट पर आते हैं और ट्रैफिक बढ़ाने में मदद करते हैं।

  1. ब्लॉग पर टिप्पणी (Blog Commenting)

इसमें आप अपने ब्लॉग से संबंधित अन्य ब्लॉग पर जाकर उनके पोस्ट पर टिप्पणी (Comment) करके अपनी वेबसाइट का लिंक छोड़ सकते हैं ध्यान रहे लिंक केवल वहीं लगाना है जहां वेबसाइट लिखी गई है ताकि जब यूजर उन लिंक पर क्लिक करे तो सीधा आपकी वेबसाइट पर आये जिससे आपके यूजर बढ़ने में मदद मिलेगी।

  1. प्रश्न और उत्तर वेबसाइट (Question and Answer Website)

यह बहुत ही आसान है इसमें आप किसी भी प्रश्न और उत्तर वाली वेबसाइट पर जाकर कोई भी प्रश्न कर सकते हो या किसी प्रश्न का उत्तर देकर अपनी साइट का लिंक लगा सकते हो।

  1. गेस्ट पोस्ट (Guest Post)

गेस्ट पोस्ट (Guest Post) आपकी वेबसाइट के लिए सबसे अच्छी तकनीक में से एक है। क्योकि इस तकनीक से आपको उच्च गुणवत्ता वाले बैकलिंक (High Quality Backlink) मिलते हैं। इसके लिए आप अपने ब्लॉग से सम्बंधित किसी वेबसाइट या ब्लॉग के मालिक से संपर्क करके उससे गेस्ट पोस्ट (Guest Post) ले सकते है। इसके अलावा आपको गूगल से भी काफी मुफ्त गेस्ट पोस्ट वेबसाइट (Guest Post वेबसाइट) मिल जाएंगी जहाँ आप अच्छा कंटेंट (Content) लिखकर उसमे अपनी वेबसाइट या कंटेंट से सम्बंधित लेख का लिंक लगा सकते है।

  1. प्रोफ़ाइल निर्माण (Profile Creation)

प्रोफ़ाइल निर्माण (Profile Creation) भी ऑफ पेज (Off Page) का ही एक अहम हिस्सा है। प्रोफ़ाइल निर्माण (Profile Creation) की बहुत सारी वेबसाइट ऐसी है, जो आपको डू फॉलो बैकलिंक (Do follow Backlink) भी देती है। आपको बस गूगल पर जाकर कुछ उच्च डी ए (High DA) वाली वेबसाइटको ढूंढ़ना है और उन पर जाकर अपनी प्रोफाइल बनानी है जिसके बाद उसमे आपको अपनी वेबसाइट का लिंक डालना है, जिससे आपको एक अच्छा बैकलिंक मिल जाता है।

ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) क्यों जरुरी हैं?

ऑफ़ पेज एसईओ ( SEO) का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, जब हमें सर्च इंजन पर अपनी वेबसाइट की उच्च रैंकिंग प्राप्त करनी होती है, तब हमें इसकी आवश्यकता होती है। यदि हम अपनी वेबसाइट का ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) करते रहते हैं, तो इससे लोग हमारी वेबसाइट के बारे में जानने लग जाते हैं क्योकि ऑफ़ पेज उपयोगकर्ताओं को वेबसाइट के साथ जोड़कर रखता है। गूगल पर रैंकिंग के लिए वेबसाइट की डोमेन अथॉरिटी (Domain Authority) बहुत मायने रखती है जिसके लिए ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) हमारी वेबसाइट के लिए जरूरी बन जाता हैं ।

ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) के फायदे?

ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO kya hai) जानने के बाद अब हम बात करेंगे कि ऑफ़ पेज एसईओ के फायदे क्या है (Off Page SEO ke Fayde Kya hai)

  • अगर हम अपनी वेबसाइट का ऑफ पेज करते है तो इससे हमारी वेबसाइट की डी ए /पी ए (DA/PA) बढ़ती रहती हैं ।
  • ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) में सर्च इंजन सबमिशन (Search Engine Submission) करने से हमारी वेबसाइट अलग-अलग सर्च इंजन पर रैंक करती हैं जिससे हमारी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ जाता है।
  • ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) करने से हमारी वेबसाइट के बारे में जागरूकता फैलती हैं तथा उपयोगकर्ताओं के प्रति सम्बन्ध भी निर्मित होता हैं ।
  • ऑफ पेज एसईओ अनुकूलन (Off Page SEO Optimization) से वेबसाइट की ऑनलाइन प्रतिष्ठा प्रबंधन (Online Reputation Management) निर्मित होती हैं।

FAQs:

 

  1. ऑफपेज एसईओ क्या है? (What is Off-Page SEO)

  • वेबसाइट के बाहर की जाने वाली उन गतिविधियों को कहते हैं, जो सर्च इंजन रैंकिंग (Search Engine Ranking) में सुधार लाने के लिए की जाती हैं। इसमें बैकलिंक्स, सोशल मीडिया प्रचार, गेस्ट ब्लॉग्गिंग (Guest Blogging), प्रभावशाली व्यक्ति तक पहुंच (influencer outreach), और अन्य ऑनलाइन प्रचार गतिविधियाँ शामिल होती हैं। इसका मुख्य उद्देश्य वेबसाइट की विश्वास और दृश्यता को बढ़ाना है ताकि सर्च इंजन में उच्च रैंक प्राप्त कि जा सके।
  1. ऑफपेज एसईओ क्यों महत्वपूर्ण है? (Why is Off-Page SEO Important)

  • ऑफ़ पेज एसईओ (Off Page SEO) महत्वपूर्ण है क्योंकि यह वेबसाइट की सर्च इंजन रैंकिंग (Search Engine Ranking) को बढ़ाने में मदद करता है। बैकलिंक्स और सोशल मीडिया प्रचार जैसी गतिविधियाँ वेबसाइट की विश्वसनीयता और प्रासंगिकता को बढ़ाती हैं, जिससे सर्च इंजन आपकी वेबसाइट को अधिक मूल्यवान मानते हैं और उसे उच्च रैंकिंग प्रदान करते हैं। इससे वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ता है और अधिक से अधिक तक पहुंचने का मौका मिलता है।
  1. ऑफपेज एसईओ में आर्टिकल सबमिशन क्या है? (What is Article Submission in Off-Page SEO)

  • ऑफ-पेज एसईओ आर्टिकल सबमिशन (Off Page SEO Article Submission) एक ऐसी प्रिक्रिया है जिसमे किसी अन्य वेबसाइट पर आर्टिकल पोस्ट करके बैकलिंक प्राप्त किये जा सके जिससे हमारे ब्लॉग की रैंक बढ़ाने मदत मिलती है यह एसईओ में एक बहुत ही महत्वपूर्ण एक्टिविटी है।
  1. मैं उच्च गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स कैसे बना सकता हूं? (How can I Build High-Quality Backlinks)

आप गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स (High-Quality Backlinks) निम्न तरीकों से बना सकते हैं:

  • गेस्ट ब्लॉग्गिंग (Guest Blogging): प्रतिष्ठित वेबसाइटों (Reputable websites) पर लेख लिखकर और अपने वेबसाइट का लिंक शामिल करना।
  • कंटेंट मार्केटिंग (Content marketing): गुणवत्तापूर्व (Quality) और उपयोगी कंटेंट (Useful Content) बनाकर जो अन्य जो स्वेच्छा से अन्य वेबसाइटों से लिंक करें।
  • प्रभावशाली व्यक्ति तक पहुंच (influencer outreach): प्रासंगिक क्षेत्र (Relevant field) के प्रभावशाली व्यक्ति (influencer) से संपर्क करके उनके माध्यम से लिंक प्राप्त करना।
  • ब्रोकन लिंक बिल्डिंग (Broken Link Building): दूसरी वेबसाइट के ब्रोकन लिंक (broken link) को खोजकर और उन्हें अपने कंटेंट से बदलने के लिए प्रस्ताव देना।
  • सोशल बुकमार्किंग (Social Bookmarking): उच्च प्रमाणीकरण (High-authentication) वाली सोशल बुकमार्किंग साइट (social bookmarking sites) पर अपने कंटेंट को शेयर करना।

इन सभी तरीकों से आप अपनी वेबसाइट के लिए गुणवत्ता और योग्यता दोनों के आधार पर मजबूत बैकलिंक्स प्राप्त कर सकते हैं।

आशा करते है कि आप सभी को ऑफ-पेज एसईओ (Off Page SEO in Hindi) की हर एक जानकारी के बारे में पता चल गया होगा। लेकिन अगर आपके पास इस लेख से सम्बंधित कुछ भी संदेह या प्रश्न हो तो आप हमसे कमैंट्स में पूछ सकते हैं, हम आपके सवालों के जबाव देने की अवश्य कोशिश करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top