बदायूँ डबल मर्डर: उत्तर प्रदेश में सैलून मालिक ने की 2 बच्चों की बेरहमी से हत्या

उत्तर प्रदेश के बदायूँ में एक सैलून मालिक मोहम्मद साजिद ने 2 बच्चों की बेरहमी से हत्या कर दी, हत्या के बाद भागने की कोशिश में आरोपी को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया.

बदायूँ डबल मर्डर: उत्तर प्रदेश के बदायूँ में एक सैलून मालिक ने अपने ही पड़ोसी के दो मासूम बच्चों की हत्या कर दी, जिसके बाद पुरे क्षेत्र में तनाव फैल गया है और हर तरफ खौफ का मंजर है। सैलून के मालिक का नाम मोहम्मद साजिद है जो कि 22 वर्षीय है, मंगलवार रात करीब 8 बजे साजिद अपने पड़ोसी ठेकेदार विनोद ठाकुर के घर में घुस गया और उसके दो बेटों बेटे आयुष (13) और अहान (6) का धारदार हथियार से गला काट दिया। दो बच्चों की हत्या के बाद भीड़ आक्रोशित है जिसके बाद गुस्साई भीड़ ने आगजनी कर तोड़फोड़ भी की।

पूछताछ में सामने आयी है कि आरोपी साजिद ने मासूम बच्चों को उनके ही घर की छत पर मारा था। घटना स्थल की पूरी छत पर खून बिखरा था मंजर इतना भयावह था कि हर कोई इसे देख दहल गया। दोनों बच्चों आयुष और अहान के तलवों पर भी खून लगा था। खबर यह भी सामने आयी है कि विनोद के तीसरे बेटे पीयूष पर भी साजिद ने हमला किया लेकिन वह आरोपी से खुद को बचने में सफल रहा| उसे मामूली चोटें आईं और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना के तुरंत बाद स्थानीय लोगों ने दुकानों में आग लगा दी और पुलिस से आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की.

आरोपियों के दूसरे समुदाय के होने से स्थानीय लोगो का गुस्सा भड़क उठा जिसके बाद भीड़ ने जाम लगाकर हंगामा करते हुए दूसरे समुदाय के तीन खोखों में तत्कालीन आग लगा दी। बरेली के पुलिस महानिरीक्षक राकेश कुमार ने बयान में कहा “आज शाम एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई जिसमें दो बच्चों की मौत हो गई। पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी ने भागने की कोशिश की। जिसके बाद आरोपी का पीछा किया गया लेकिन उसने पुलिस पर गोलीबारी शुरू की और जवाबी कार्रवाई में साजिद की मौके पर ही मौत हो गई।” पुलिस साजिद के दो और साथियों की तलाश कर रही है और साथ ही हत्या की वजह का भी पता लगाया जा रहा है।

सिद्धू मूसे वाला की मां ने 58 की उम्र में बेटे को जन्म दिया

बताया जा रहा है कि ठेकेदार विनोद ठाकुर ने पढ़ने के लिए अपने तीनों बेटों का दाखिला नजदीक के ही शिव देवी सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में कराया था। जहां आयुष कक्षा छह का छात्र था, जबकि अहान एलकेजी में पढ़ता था और वही तीसरा बेटा पीयूष कक्षा तीन का छात्र है। उनके दोस्तों के मुताबिक, आयुष और अहान बहुत सीधे थे, घर से बाहर खेलने भी नहीं जाते थे। स्कूल में ही अपने दोस्तों से मिलते थे और पढ़ाई में भी काफी होशियार थे।

बदायूँ की जिस जगह वारदात हुई है वह मंडी समिति पुलिस चौकी से सिर्फ 500 मीटर दूर है आरोपी साजिद की बदायूँ शहर के बाबा कॉलोनी में ही सैलून की दुकान थी। दो बच्चों की नृशंस हत्या का कारण अभी भी अज्ञात है। ताजा घटनाक्रम के मुताबिक, मृतक के पिता ने कहा है कि हत्या में साजिद अकेला नहीं था उसमे दो लोग और शामिल थे और वे अभी भी इस बात से अनजान और हैरान हैं कि यह घटना क्यों हुई.

मृतक बच्चों के परिजनों ने एफआईआर में आरोपी के भाई जावेद का नाम भी पुलिस को दर्ज कराया है, जिसके बाद पुलिस ने जल्द ही कार्रवाई का आश्वासन दिया और कहा कि जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। परिवार के अनुसार, आरोपी ने मृतक बच्चों के पिता से ₹5,000 की मांग की थी, एसएसपी बदायूँ ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया।

इस बीच, पुलिस ने भी मंडी समिति चौकी बदायूँ के पास स्थित बाबा कॉलोनी में सुरक्षा बढ़ा दी है। बदायूं के जिलाधिकारी मनोज कुमार ने लोगों से शांति बनाए रखने की गुजारिश की है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top